टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 19 मई 2020

Advertisements

Advertisements

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 19 मई 2020 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से आईसीसी क्रिकेट कमेटी और कोरोना वायरस आदि शामिल हैं.

कोरोना वायरस संक्रमण के फैलने के बाद से ही लगातार इस बारे में बातें की जा रही थी. खिलाड़ियों के गेंद चमकाने के लिए थूक या पसीने के उपयोग पर पाबंदी लगाने का सुझाव दिया जा रहा था. आईसीसी क्रिकेट कमेटी ने आईसीसी के नियमों में बदलाव किए जाने की सिफारिश की है जिससे कोविड-19 के वायरस से खिलाडीयों और मैच से जुड़े तमाम अधिकारियों का बचाव किया जा सके.

क्रिकेट की गेंद विशेष कर लाल गेंद पर लार का उपयोग चमक बनाने और उससे स्विंग हासिल करने हेतु किया जाता है, लेकिन इसे अब स्वास्थ्य के लिए जोखिम के तौर पर देखा जा रहा है. बैठक में जिस अन्य अहम मसले पर चर्चा हुई वह कुछ समय के लिए द्विपक्षीय सीरीज में फिर से गैर तटस्थ अंपायरों को नियुक्त करना है.

 

सॉफ्टबैंक ने बोर्ड में तीन नए सदस्यों की घोषणा की. इनमें सॉफ्टबैंक के मुख्य वित्तीय अधिकारी योशिमित्सु गोटो और वासेदा विश्वविद्यालय के प्राध्यापक युको क्वामोटो शामिल हैं. सॉफ्टबैंक ने अलीबाबा में काफी निवेश किया है.

जैक मा ने अपने करियर की शुरुआत एक टूरिस्ट गाइड के रूप में की थी. उन्होंने 2014 में जैक मां फाउंडेशन की स्थापना की, जिसका उद्देश्य चीन के ग्रामीण इलाकों में शिक्षा के स्तर में सुधारा लाना है. उन्होंने वर्ष 1990 में नौकरी छोड़ कर अपना कारोबार शुरू करने की ठानी.

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने आगे यह भी बताया कि कोविड -19 या किसी भी अन्य रोगजनकों के कीटाणुओं को मारने के लिए बाहरी स्थानों जैसेकि मार्केट प्लेस या सड़कों पर छिड़काव या धूआं/ धूमन करने की सिफारिश नहीं की गई है क्योंकि गंदगी या मलबे से यह छिड़काव या धुआं निष्क्रिय हो जाएगा.

डब्ल्यूएचओ द्वारा अपने दस्तावेज में यह भी जोर दिया गया है कि किसी भी परिस्थिति में कीटाणुनाशक का छिड़काव करने की सिफारिश नहीं की गई है. यह छिड़काव शारीरिक और मनोवैज्ञानिक रूप से हानिकारक हो सकता है.

 

इजराइल में एक साल में हुए तीन चुनाव के बाद बेंजामिन नेतन्याहू ने गठबंधन सरकार में प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. इसके साथ ही देश में 500 दिनों से जारी राजनीतिक संकट खत्म हो गया. एक के बाद एक हुए तीन चुनावों में किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला था.

बेंजामिन नेतन्याहू ने जुलाई 2019 में डेविड बेन गुरियन को पीछे छोड़ते हुए इजरायल के सबसे ज्यादा समय तक प्रधानमंत्री रहने की उपलब्धि हासिल की थी. बेंजामिन नेतन्याहू 1996 में पहली बार इजराइल के प्रधानमंत्री बने थे.



Advertisements


Source link

0 Comments

Subscribe to Government Job Alert

Enter your email address to subscribe to site and receive notifications of new posts by email.

Advertisements

Get Free Job Updates

Enter your Email to get daily free job updates